Ram Mandir Inaguration: राम मंदिर के उद्घाटन में शामिल होंगे ऐसे-ऐसे लोग, जिनकी किसी को नहीं होगी कोई उम्मीद

Ram Mandir Inaguration

Ram Mandir Inaguration: राम मंदिर के उद्घाटन में शामिल होंगे ऐसे ऐसे लोग, जिनकी किसी को नहीं होगी कोई उम्मीद | Janakpur से Ayodhya तक क्या-क्या हो रहा है?

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर के उद्घाटन का दिन तय हो गया है उद्घाटन के लिए 22 जनवरी 2024 की तारीख तय की गई है| 

अभिजीत महूरत में यह कार्यक्रम होगा 18 दिसंबर को राम मंदिर ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बकायदा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राम लला की प्राण प्रतिष्ठा से जुड़े तमाम जानकारियां साजा की हैं, उन्होंने बताया कि इस तारीख और शुभ महूरत में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी 

लेकिन एक सवाल जो सबके मन में उठ रहा है कि आखिर राम लला की प्राण प्रतिष्ठा में शामिल होने के लिए किन बड़ी हस्तियों को बुलाया गया है और उनके नाम क्या हैं?

लगभग 125 परंपराओं के संत महापुरुष आएंगे| Ram Mandir Inaguration

राम मंदिर ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय के मुताबिक इस प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में देश के कई विशिष्ट लोगों को आमंत्रण भेजा गया है इस कार्यक्रम के लिए लगभग चार 4000 संतों को निमंत्रण भेजा गया है

कोशिश की गई है कि भारत की हर परंपरा के संत इस समारोह में आए हर राज्य की संस्थाएं और हर राज्य का प्रतिनिधित्व हो पाए, इसके लिए 125 परंपराओं के संत 13 अखाड़े, छह दर्शन के दर्शना आचार्यों को निमंत्रित किया गया है, जिसमें हरिद्वार के आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरी जी महाराज, निर्मल समाज के संत ज्ञानदेव जी, बाबा रामदेव, केरल की आनंदमय मां, दलाई लामा, रामभद्राचार्य जी महाराज, रामानुजाचार्य भास्कर सहित कई गणमान्य लोगों को आमंत्रित किया गया है 

इसके अलावा जत्थेदार स्वामी नादेड साहब, जत्थेदार पटना साहिब को भी आमंत्रित किया गया है, 22 जनवरी के लिए लगभग 4000 संतों को निमंत्रित किया गया है 

भारत की सभी परंपराओं के संत आए, प्रत्येक राज्य के संत आए, और धीरे धीरे राज्य में हर कमिश्नरी का रिप्रेजेंटेशन हो जाए, अरुणाचल, त्रिपुरा, मिजोरम, मेघालय, सिक्किम, अंडमान, निकोबार समुद्र के किनारे रहने वाले समाज के धर्म गुरु, झारखंड, छत्तीसगढ़ के वनवासी क्षेत्र के धर्म गुरु लगभग 125 परंपराओं के संत महापुरुष आएंगे|

स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती जी, बद्रिका आश्रम ज्योतिर भट के शंकराचार्य निश्चलानंद जी, गोवर्धन पीठ के शंकराचार्य द्वारिका में रहते हैं सदानंद सरस्वती जी, शारदा पीठ के शंकराचार्य भारती कृष्ण तीर्थ जी, संगरी पीठ के शंकराचार्य आचार्य महामंडलेश्वर विशो कानंद भारती जी महाराज, हरिद्वार आचार्य महाम श्वर अवधेशानंद गिरी जी महाराज, हरिद्वार निर्बल समाज के सिखों के महंत ज्ञानदेव सिंह जी बहुत बुजुर्ग आदमी है|

जगतगुरु गुरु शरणानंद जी महाराज को निवेदन किया गया है, बाबा रामदेव जी को निवेदन किया गया है केरल की अम्मा आनंदमई मां निवेदन किया गया है, दलाई लामा उनको आने का निवेदन किया गया है, हस्तिनापुर से जैन मुनि रवींद्र कीर्ति जी महाराज आजकल यही रायगंज में जैन मंदिर में रहते हैं| 

जगतगुरु रामानंदाचार्य, राम भद्राचार्य जी, चित्रकूट रामानुजाचार्य विद्या भास्कर वासुदेवाचार्य जी, और भी यहां के रामानंद संप्रदाय के श्रीधराचार्य जी, राघवाचार्य जी, सुग्रीव किला के सबको निवेदन है 

जत्थेदार ज्ञानी सिह जी पटना पटना साहब, जत्थेदार ज्ञानी राम सिंह जी नांदेड़ साहब और बौद्धों के राहुल बोधी जी महाराज, मुंबई स्वामिनारायण परंपरा आर्ट ऑफ लिविंग,  गायत्री परिवार, बहुत विचार पूर्वक इनके नामों का चयन किया गया है 

Ram Mandir Inaguration

Janakpur से Ayodhya तक क्या-क्या हो रहा है? | Ram Mandir Inaguration

22 जनवरी की तारीख है जब अयोध्या में रामलला अपने भव्य मंदिर में विराजमान होंगे, ऐसे में भगवान राम की ससुराल और माता सीता के मायके जनकपुर में भी जबरदस्त उत्साह है 

जनकपुर की घरवास परंपरा के मुताबिक माता सीता के मायके से उपहार जाएंगे यानी जब कोई बेटी अपने नए घर में प्रवेश करती है तो मायके वाले अपने दामाद को सामान देते हैं उपहार के लिए 1100 डोलियां तैयार की गई हैं, सभी डोलियों को लाल और पीले कपड़े में सजाया गया है, डोलियों में मेवा मिठाइयां मालपुए और दूसरे पकवान होंगे 

इसके अलावा फलों से भरी 100 से ज्यादा डलिया, माता सीता के लिए लाल चुनरी श्रृंगार और सुहाग के सामान होंगे, भगवान राम के लिए पीली धोती कुर्ता और उसके साथ गमछा भेजा जाएगा 

500 लोग जाएंगे जनकपुर से अयोध्या 3 जनवरी उपहार लेकर जनकपुर से मिथिला के लिए चलेंगे यह रास्ता जंगल के जरिए तय होगा जो हाईवे पर मिलेगा बिहार के रक्सौल बेतिया और गोपालगंज और फिर गोरखपुर होते हुए 5 जनवरी को अयोध्या धाम पहुंचेंगे 

6 जनवरी को अयोध्या के घर जनकपुर से लाया गया सामान श्रीराम जन्मभूमि ट्रस्ट को सौंपा जाएगा, बताते हैं कि यह वही रास्ता है जिससे श्री राम माता सीता के साथ जनकपुर से अयोध्या लौटे थे, 

वैसे जनकपुर यानी सीता मैया का मायका है, कहां पर यह भी जानना जरूरी है काठमांडू से जनकपुर की दूरी 250 किलोमीटर के करीब है, जबकि बिहार के दरभंगा से जनकपुर का फासला 40 किलोमीटर का है|

वाल्मीकि रामायण के मुताबिक जनकपुर में ही माता सीता का जन्म हुआ था, 1816 से पहले जनकपुर भारत का हिस्सा था लेकिन 1816 में सुगौली संधि के बाद अंग्रेजों ने जनकपुर को नेपाल को सौंप दिया

राम मंदिर का काम कितना पूरा हुआ? | Ram Mandir Inaguration

राम मंदिर का फर्स्ट फ्लोर 80% बनकर तैयार हो चुका है ,अब पत्थर के फर्श की घिसाई और पिलर्स को कलाकार अंतिम रूप दे रहे हैं,  दिसंबर के आखिर तक फिनिशिंग और फर्स्ट फ्लोर को तैयार करने का टारगेट है, समय पर निर्माण पूरा करने के लिए राम मंदिर परिसर में मजदूरों की संख्या बढ़ा दी गई है|

अयोध्या में धार्मिक भावनाओं, सांस्कृतिक पुनर्जागरण, और व्यापारिक दृष्टिकोण के एकीकरण ने न केवल एक आध्यात्मिक पुनरुत्थान का संकेत दिया है, बल्कि एक उभरती हुई आर्थिक मानवसंचार का भी वादा किया है Ram Mandir Inaguration। जब राम मंदिर के अभिषेक की तारीख नजदीक आ रही है, तो देश का इंतजार है एक नये अयोध्या के सवेरे का, जो अपनी सदीय सांस्कृतिक विरासत और वादे के आर्थिक संभावनाओं को दर्शाएगा।

आखिरी रूप में, अयोध्या के इस सांस्कृतिक और आर्थिक परिवर्तन की यात्रा में हमारे साथ जुड़ें और और अधिक अपडेट्स पाएं। हमें फॉलो करें और इस नये अयोध्या के सफर में हमारे साथ चलें, जो संस्कृति, धर्म, और विकास के नए पहलुओं को दर्शाता है। धन्यवाद!

Ram Mandir Inaguration

Disclaimer: This is not any paid promotion content, This content has been written by an outside agency. The views expressed here are those of the respective authors/organizations and do not represent the views of RightWay.Live. does not guarantee, confirm or endorse any of its contents nor is it responsible in any way for them. Please take all necessary steps to ensure that any information and material provided is accurate, updated and verified.

RightWAY.Live | Right News From Right Way | News Updates आज की ताजा खबरें | For more Updated & Latest News, Please Click Here आप #rightwaylive को भी फॉलो कर सकते हैं।

Also Like to Read…

Ayodhya Ram Mandir Opening | अयोध्या राम मंदिर का उद्घाटन

Ayodhya Ram Mandir Nirman के साथ में अरबों के विकास कार्य

Ram Mandir Inaguration: राम मंदिर के उद्घाटन में शामिल होंगे ऐसे-ऐसे लोग, जिनकी किसी को नहीं होगी कोई उम्मीद

RightWAY Network
Rightway is the Current Affairs & Latest News updates website. Our goal is to provide current affairs & latest news updates by the experts on our website. Our team of always enthusiastic writers provides articles on our site and is available in 3 different languages like English, Hindi, and Marathi.