Gudi Padwa Kyu Manaya Jata Hai ? Gudi Padwa Information in Hindi

Gudi Padwa Kyu Manaya Jata Hai.
Gudi Padwa Kyu Manaya Jata Hai.

Gudi Padwa Kyu Manaya Jata Hai ? हिंदू नव वर्ष का पहला त्योहार गुडी पडवा (वर्षाप्रतिपदा) है। क्यूंकि  यह दिन साढ़े तीन मुहर्त में से एक होता है, इसलिए वे इस दिन नए कार्य की शुरुआत करते हैं। गुड़ीपाडवा के दिन आने वाले वार को स्वामी की पूजा करनी चाहिए। सभी पुरुषों और महिलाओं, युवा और बूढ़े, को सुबह जल्दी उठना चाहिए और सुबह का काम खत्म करना चाहिए।

महिलाओं द्वारा घर के सामने वाले हिस्से को गोबर से ढक देना चाहिए (अगर आँगन न हो और शहर में फुटपाथ या फर्श हो तो उसे पानी से  धोकर रंगोली बनानी चाहिए)। जिस स्थान पर रंगोली रखी जाती है, उस स्थान पर दरवाजे के सामने डंडा ऊंचा खड़ा होना चाहिए। फिर उसकी पूजा करें।

Gudi Padwa Kyu Manaya Jata Hai ?

गुडी की पूजा के बाद नीम के पत्ते लें और उन्हें पीस लें। चने की दाल, ओवा, नमक आदि डालें और इस मिश्रण का सेवन घर की सभी छोटी-बड़ी सभाओं को करना चाहिए। यह सेवन अब प्रतीकात्मक बना हुआ है। इसका नियमित सेवन करने से रोग नहीं होता है। साथ ही शरीर स्वस्थ, निरोगी रहता है।

गुड़ी को सूर्यास्त से पहले उतार लेना चाहिए। इससे पहले हल्दी-अक्षता को धारण कर गुड़ी की पूजा करनी चाहिए।

( नीम बुखार, प्यास, एनोरेक्सिया, अल्सर, कीड़े, पित्त, कफ, उल्टी, नेत्र रोग, जहर, कण्ठमाला, बवासीर आदि के लिए बहुत उपयोगी है। दिखाया गया है कि नीम के पत्तों में क्विरीसिरिन नामक तरल होता है।)

Gudi Padwa Kyu Manaya Jata Hai, Gudi Padwa Information in Hindi
Gudi Padwa Kyu Manaya Jata Hai, Gudi Padwa Information in Hindi

इस त्योहार की कुछ किंवदंतियाँ निम्नलिखित हैं: Gudi Padwa Kyu Manaya Jata Hai ?

१) भगवान रामचंद्र ने चौदह वर्ष के वनवास के बाद अयोध्या शहर में प्रवेश किया और लंकाधिपति रावण और अन्य राक्षसों का विनाश किया।

२) बसु नाम का एक राजा तपस्या से मनुजेंद्र बना और अमरेंद्र ने इस दिन उसे आभूषण देकर उसकी महिमा की।

३) ब्रह्मा ने चैत्र शुद्ध प्रतिपदे बनाए।

४) शालिवाहन ने शक को हराने के लिए ६००० मिट्टी के सैनिकों को तैयार किया और उन मूर्तियों में जीवन बनाकर अपनी सेना को साबित किया।

शालिवाहन ने मिट्टी के गोले की तरह ठंडे और बेजान समाज में चेतना पैदा करके अलौकिक कारनामे किए। उस गौरवशाली पराक्रम की याद में, शालिवाहन ने चैत्र शुद्ध प्रतिपदे पर अपना संदेह शुरू किया।

सूर्य और शालिवाहन शक में 78 वर्ष का अंतर है। इन सभी शुभ कार्यों का शुभ मुहूर्त गुडीपडवा है।

Gudi Padwa Information in Hindi
Gudi Padwa Information in Hindi

Gudi Padwa Information in Hindi

Gudi Padwa के इस शुभ दिन पर पिछले वर्ष में किए गए अच्छे और बुरे कर्मों की समीक्षा करनी चाहिए और नए साल में अच्छे कर्म करने का संकल्प लेना चाहिए। अपने आचरण को पवित्र, अच्छा, सात्विक, प्रेममय बनाने का निश्चय करो।

हम आपके पड़ोसियों, दोस्तों और रिश्तेदारों से प्यार से मिलने के द्वारा आपको एक खुश, समृद्ध और खुशहाल नव वर्ष की कामना करते हैं। सद्भावना सभी के जीवन में व्यक्त की जानी चाहिए। एक दूसरे के प्रति निष्ठा की शपथ लें। शारीरिक, मौखिक और मानसिक प्रगति इस पर्व का मुख्य उद्देश्य है। 

Also you like to Read – 

Raksha Bandhan : Happy Raksha Bandhan HD Images & Wallpapers Free Download

Read More Festival Articles & Also follow for more updates #rightwaylive

RightWAY Network
Rightway is the Current Affairs & Latest News updates website. Our goal is to provide current affairs & latest news updates by the experts on our website. Our team of always enthusiastic writers provides articles on our site and is available in 3 different languages like English, Hindi, and Marathi.
₹ 15.74 lakh crore of investors’ wealth was wiped out होली की शुभकामनाएं | होली 2022 | Happy Holi (होली ) हिंदी मे 6 True Interesting Facts will Blow your Mind एक महिला के साथ रिलेशनशिप में थे Johnny Depp :Amber Heard आईपीएल (IPL 2022) में सबसे लंबा छक्का कौन मारेगा?